rolex 2017 price list replica watches chennai swiss replica watches rolex diamond bezels for sale montblanc replica fake watches tag heuer formula 1 rubber strap cartier tank americaine white gold replica watches best fake hublot watches uk buy hublot replica watches online india replica watches mont blanc sunglasses replica india vintage patek philippe fake watches

President Information

Home28th KaryakariniPresident Information

Shri Shyamsunderji Soni
अखिलभारतवर्षीय माहेश्वरी महासभा , २८ वाँ सत्र

सभापति श्री श्यामसुन्दर जी मदनलाल जी सोनी

अल्प परिचय :-

१) व्यक्तित्व :-

गांधी जयंती , २ अक्तूबर १९५३ को जन्मे , अखिलभारतवर्षीय माहेश्वरी महासभा के २८ वे सत्र के निर्विरोध निर्वाचित सभापति श्री श्यामसुन्दर जी सोनी जो समाज में कहीं श्याम जी , कहीं श्याम भाई साहब और कहीं श्याम भाऊ जैसे अपनत्वपूर्ण सम्बोधनों से जाने जाते हैं , बहुमुखी प्रतिभा के धनी हैं ।शैक्षणिक योग्यता के लिहाज़ से वे केमिकल इंजीनियर हैं ! बी. टेक. ( केमिकल ) की परीक्षा जब प्रथम श्रेणी में स्वर्ण पदक ले उत्तीर्ण की तब उनकी उम्र मात्र १९ वर्ष की थी !वे नागपुर विश्वविद्यालय का प्रतिनिधित्व शतरंज,तैराकी , टेबलटेनिस और बैडमिंटन में कर चुके हैं ! कॉलेज के दिनों में भाषण तथा वाद-विवाद स्पर्धाओं में श्री श्याम जी ने कोई दर्जन दो दर्जन नहीं लगभग दो सौ पुरस्कार जीते हैं ! विभिन्न सरकारी समितियों पर श्री श्यामसुन्दर जी सोनी सक्रिय रहे हैं ! वे टेलिफ़ोन एडवाइज़री समिति, रेलवे एडवाइज़री समिति तथा महाराष्ट्र राज्य लेबर बोर्ड के सदस्य रहे हैं । पूर्व में महाराष्ट्र सरकार द्वारा उन्हे विशेष कार्यकारी दंडाधिकारी नियुक्त किया गया था ! महासभा के वर्तमान सभापति श्री श्याम जी सामाजिक तथा शिक्षा क्षेत्र से सम्बंधित अनेक संस्थाओं से जुड़े रहे हैं ! श्री उज्वल गौरक्षण सभा , श्रेयस विद्यालय, नागपुर शेयर ब्रोकर्स एसोशिएशन , वर्धमान नगर गृह निर्माण सहकारी समिति, सर्वोदय केन्द्र उनमें से कुछ हैं !

२) पारिवारिक पार्श्व भूमि :-

राजनीति में अपनी विशिष्ठ पहचान रखनेवाले श्री श्याम जी यदि राजनीति में नहीं गए तो मात्र अपने पूज्य पिता स्व. श्री मदनलाल जी की सलाह के कारण ! श्री श्याम जी को विधानसभा के लिये टिकट प्रस्तावित हो चुकी थी, परंतु पिताजी ने कहा , " समाज सेवा के बिना राजनीति मनुष्य को भ्रष्ट कर सकती है । कुछ करना है तो समाज की सेवा करो !" स्वर्गीय मदनलाल जी चार वर्ष की अल्पायु में अनाथ हो गए थे , जब उनके पिता की मृत्यु पर माँ सती हो गई थीं। वे दृढ़ चरित्र के स्वनिर्मित व्यक्ति थे।नागपुर की अनेक संस्थाएँ , जैसे पॉपुलर क्लॉथ मार्केट, वेंकटेश्वर मंदिर, राधाकृष्ण मंदिर , व्यापारी गोरक्षण संघ,नित्यानंद कन्याविद्यालय इत्यादि इत्यादि उन्ही के प्रयासों के सुफल हैं । सभापति श्री श्यामसुन्दर जी सोनी की पत्नी सौभाग्यवती उषा जी सोनी भी स्थानीय स्तर पर समाज में सक्रिय रही हैं । वे पूर्व में प्रगति राजस्थानी मंडल की पहले सचिव तथा बाद में अध्यक्ष रही हैं ।श्रीमती उषा जी माहेश्वरी महिला समिति , नागपुर की भूतपूर्व कार्यकारी मंडल सदस्या हैं ।जीवन के हर चढ़ाव -उतार में आप ने श्री श्याम जी का पूर्ण दृढ़ता से साथ दिया है । श्रीमती उषा जी तथा श्री श्यामसुन्दर जी दो विवाहित बच्चों सौ. शिल्पा जी होलानी और श्री शरद सोनी के माता - पिता हैं ।

३) महासभा में श्री श्यामसुन्दर जी सोनी :-

  • २८ वाँ वर्तमान सत्र -- सभापति
  • २७ वाँ विगत सत्त -- निवर्तमान महामंत्री
  • २६ वाँ सत्र -- महामंत्री
  • २५ वाँ सत्र। -- निवर्तमान महामंत्री
  • २४ वाँ सत्र। -- महामंत्री
  • २३ वाँ सत्र -- संगठन मंत्री
  • २२ वाँ सत्र -- विदर्भ प्रदेश से कार्य समिति सदस्य

इससे पूर्व वे अखिलभारतवर्षीय माहेश्वरी युवक संगठन के अध्यक्ष(२०वां सत्र) , अर्थमंत्री ( १९ वाँ सत्र ) तथा कार्य समिति सदस्य (१८ वाँ सत्र) तथा विदर्भ प्रादेशिक माहेश्वरी युवक संगठन के अध्यक्ष रह चुके हैं !!

४) व्यवसाय :-

श्री श्याम सुन्दर जी सोनी सिग्नेट टेक्नॉलॉजी ( प्रा. लि .) तथा न्यू पोर्ट ट्रेडलिंक्स एण्ड लॉजिस्टिक के चेयरमन हैं ।